NTA NET Sociology Question Paper, Civil Services Sociology Question

समाजशास्त्र NTA NET Sociology

1. निम्नलिखित में से किसने यह तर्क दिया है कि जो व्यक्ति उपयुक्त नहीं स्थापित हो सके वे आगे बढ़ने के पात्र नहीं हैं?

(1) अगस्त कॉम्ट
(2) हरबर्ट स्पेंसर
(3) इमाईल दुखाईम
(4) मैक्स वेबर

2. किस सामाजिक परिप्रेक्ष्य में कल्पित किया गया है कि “अधिकतर मानवीय परितोषण दूसरे लोगों की क्रियाओं से उत्पन्न होता है।”

(1) प्रतीकात्मक अंत:क्रियावादी
(2) आदान-प्रदान
(3) शोषी
(4) संरचनात्मक

3. निम्नलिखित में से कौन सी एक समुदाय को विशिष्टता नहीं है?

(1) विशिष्ट स्थान
(2) ऐतिहासिक विरासत
(3) सामान्य विशेषताओं को साझा करने वाले एक सामाजिक, धार्मिक, व्यावसायिक या अन्य समूह
(4) कई क्षेत्रों में फैले स्थानों के छोटे-छोटे खंड

NTA NET Sociology

4. अधिगत और सहभाजित (साझा) वे सांस्कृतिक उत्पाद, जो एक दिए गए समाज में निश्चित प्रकार के व्यवहार का औचित्य ठहराते हैं, क्या कहलाते हैं?

(1) आदर्शक
(2) मूल्य
(3) संस्कृति
(4) प्रथा

5. एक सामाजिक प्रतिवेश में यदि लोग अभिग्रहण करते हैं कि उनकी स्वयं की संस्कृति, समूह और व्यवहार दूसरों की तुलना में अधिक श्रेष्ठ हैं तो उसे किस रूप में जाना जाता है?

(1) नृजातिकेंद्रिकतावाद
(2) अज्ञातकेंद्रिकतावाद
(3) स्वकेंद्रिकतावाद
(4) राष्ट्रीयता

6. विश्वासों और मूल्यों का वह समुच्चय (सेट) क्या कहलाता है जो समाज की प्रभावी संस्कृति को अस्वीकृत करे और एक वैकल्पिक व्यवस्था को विहित करे?

(1) उपसंस्कृति
(2) जड़-संस्कृति
(3) प्रति-संस्कृति
(4) सांस्कृतिक समष्टि

7. एक व्यक्ति एक विद्यालय शिक्षक है, वह उप-प्राचार्य है, स्थानीय क्लब का सदस्य है और ग्राम पंचायत का अध्यक्ष है।

सभी स्थितियां मिलकर उसकी किस प्रस्थिति का निर्माण करती हैं?

(1) प्रस्थिति
(2) प्रस्थिति समुच्चय
(3) बहुल प्रस्थितियां
(4) प्रस्थिति अनुक्रम

NTA NET Sociology

8. भूमिका-द्वंद्व के संरचनात्मक सिद्धांत का प्रतिपादन किसने किया है?

(1) ए.आर. रेडक्लिफ-बॉउन
(2) आर. के. मर्टन
(3) टालकॉट पार्सन्स
(4) जी.पी. पोंक

 

8. भूमिका-इंद्र के संरचनात्मक सिद्धांत का प्रतिपादन किसने किया है?

(1) ए.आर. रेडक्लिफ-ब्रॉउन
(2) आर.के. मर्टन
(3) टालकॉट पार्सन्स
(4) जी.पी. मोंक

9. यह किसने माना है कि सामाजिक संरचना भूमिकाओं को आंतरिक संरचना के माध्यम से बनती हैं?

(1) ए.आर. रैडक्लिफ-ब्राउन
(2) आर.के. मर्टन
(3) आर. लिन्टन
(4) एस.एफ. नाडेल

10. किसने ‘भूमिका संबंधों के संक्षिप्तिकरण’ को भूमिका विन्यास में भूमिकाओं को व्यक्त करने के एक तंत्र के रूप में प्रतिपादित किया है।
(1) यलकॉट पार्सन्स
(2) एस.एफ. नाडेल
(3) सी. लेवी-स्ट्रॉस
(4) आर.के. मर्टन

11. समूहों के एकसंयुज, द्विसंयुज और त्रिक में वर्गीकरण का श्रेय किसको दिया जाता है?

(1) पी.ए. सोरोकिन
(2) जी. सिमेल
(3) डब्ल्यू.जी. समनर
(4) जी. हासेन

12. निम्नलिखित में से कौनसा सुमेलित नहीं है?
(1) समनर अंतः-समूह और बहि:समूह
(2) मीड महत्वपूर्ण अन्य
(3) गिइडिंग्स समस्तरीय और विषमस्तरीय (उदग्रस्तरीय) समूह
(4) कुले प्राथमिक एवं द्वितीयक समूह

13. किसने वर्गों को श्रम के विभाजन द्वारा सृजित और आनुवंशिकता द्वारा अनुरक्षित व्यावसायिक समूहों के रूप में परिभाषित किया है?

(1) कार्ल मार्क्स (2) जी. शुमोलर (3) ई. दुखाईम (4) जी, फ्रीडमैन

14. प्रत्याशित समाजीकरण निम्नलिखित में से किसके कारण घटित होता है?

(1) परिवार व्यवहार
(2) शिक्षापरक व्यवहार
(3) क्रीड़ा-समूह व्यवहार
(4) संदर्भ समूह व्यवहार

15. कौन समुदाय के भीतर सामाजिक वर्गों के विभेदीकरण के द्वारा राज्य के आविर्भाव की बात कहते हैं ?

(1) एफ, ओपनहेमर
(2) कार्ल मार्क्स
(3) पीटर एम. बनाक
(4) मैक्स वेबर

16. ‘एक तथ्य जो अन्य सभी से परे अलग दिखता है, वह यह है कि चारों तरफ पति, पत्नी और अपरिपक्व बच्चे, समुदाय के बाकी लोगों के अतिरिक्त, एक इकाई का निर्माण करते हैं’, यह किसने कहा है?

(1) आर.एच. लोवी
(2) के.एम. कपाडिया
(3) के. डेविस
(4) जी.पी. मोंक

 

16. ‘एक तथ्य जो अन्य सभी से परे अलग दिखता है, वह यह है कि चारों तरफ पति, पत्नी और अपरिपक्व बच्चे, समुदाय के बाकी लोगों के अतिरिक्त, एक इकाई का निर्माण करते हैं, यह किसने कहा है?

(1) आर.एच. लोबी (2) के.एम. कपाडिया (3) के. डेविस (4) जी.पी. मर्डोक

17. निम्नलिखित में से कौन-सी प्रक्रिया समाजीकरण के समतुल्य मानी जाती है?

(1) परसंस्कृतिग्रहण
(2) समंजन
(3) संस्कृतिग्रहण
(4) लामबंदी

18. बाल्यावस्था पर ध्यान केन्द्रित करने के साथ एक वयस्क सामाजिक प्राणी बनने में निहित प्रक्रिया क्या कहलाती है?

(1) प्राथमिक समाजीकरण
(2) द्वितीय समाजीकरण
(3) पुनर्समाजीकरण
(4) प्रत्याशित समाजीकरण

NTA NET Sociology
NTA NET Sociology

19. निम्नलिखित में से किन्होंने मार्क्सवादी ढांचे के भीतर मध्यम वर्ग के सिद्धांत का प्रतिपादन किया?

(1) आर. कोलिन्स
(2) एल.ए. कोजर
(3) आर. डेहरेनडॉर्फ
(4) जी. सिमेल

20. किसने सामाजिक गतिशीलता को दो तरीकों “सामाजिक आरोहण” और “सामाजिक अधोगमन” – में वर्गीकृत किया है।
(1) पी.एम, ब्लाक
(2) एस.एम, मिलर
(3)पी.ए. सोरोकिन
(4) एस.एम. लिपसेट

21. ‘एक्स’ एक कार्यालय में लिपिक हैं, उनके पिता एक पुलिस निरीक्षक थे और उनके दादा न्यायाधीश थे। यह किस प्रकार का परिवर्तन है?

(1) समस्तरीय गतिशीलता
(2) विषमस्तरीय गतिशीलता
(3) विषमस्तरीय अधोमुखी गतिशीलता
(4) विषमस्तरीय उपरिमुखी गतिशीलता

22. निम्नलिखित में से किसने स्तरीकरण के प्रकार्यात्मक एवं संघर्षात्मक सिद्धांत के साथ सामंजस्य स्थापित किया है?

(1) सेलिया एस. हेलर
(2) जोसेफ टी. हॉवेल
(3) जी. लेन्स्की
(4) विल्बर्ट ई. मूर

23. निम्नलिखित में से किसका यह मानना है कि सामाजिक परिवर्तन के दौर में इतिहास संस्कृति के दो प्रकारों – अनुभविक और संप्रत्ययात्मक के बीच आगा-पीछा करता है?

(1) कॉम्ट
(2) स्पेंसर
(3) हॉबहाउस
(4) सोरोकिन

 

25. किसने अफ्रीकी जनजातियों : चोक्टाह और ओमाहा की नातेदारी प्रणाली की संरचना का अध्ययन किया है।
(1) ई.बी. टॉयलर
(2) ए.आर. रेडक्लिफ-ब्रॉउन
(3) इवांस प्रिटचार्ड
(4) बी. मैलिनॉवस्की

NTA NET Sociology
NTA NET Sociology

26. निम्नलिखित में से कौन ‘मिथक की संरचना’ के अध्ययन से संबंधित हैं?
(1) सी. लेवी-स्ट्रॉस
(2) जेम्स फ्रेजर
(3) बी. मैलिनॉवस्की
(4) ए.एल. क्रोबर

27. दुर्खाईम के अनुसार आधुनिक समाज का कौन-सा अनुक्रम सही है?

(1) विभेद, उच्च श्रेणी की अंतर्निर्भरता, उच्च नैतिक घनत्व, दमनकारी प्रतिबंध, सामूहिक चेतना की अल्प मात्रा
(2) सादृश्य, उच्च श्रेणी की अंतर्निर्भरता, अल्प नैतिक घनत्व, क्षतिपूरक प्रतिबंध, सामूहिक चेतना की उच्च मात्रा
(३) विभेद, उच्च श्रेणी की अंतर्निर्भरता, उच्च नैतिक घनत्व, क्षतिपूरक प्रतिबंध, सामूहिक चेतना की अल्प मात्रा
(4) विभेद, निम्न श्रेणी की अंतर्निर्भरता, उच्च नैतिक घनत्व, दमनकारी प्रतिबंध, सामूहिक चेतना की अल्प मात्रा

28. निम्नलिखित से किसने यह तर्क दिया कि सभी संरचनाएं सामाजिक प्रणाली के कार्यकरण के लिए अपरिहार्य नहीं हैं?

(1) पार्सन्स
(2) गिड्डेन्स
(3) मर्टन
(4) सिमेल

29. निम्नलिखित में से किसने कल्पित किया कि कोई भी समाज अपनी संरचना और प्रकार्य दोनों दृष्टियों से अलग-अलग होने वाली उप-प्रणालियों को ऐसी श्रृंखला से बना होता है जिसका समूचे समाज के लिए महत्व होता है?

(1) मर्टन
(2) पार्सन्स
(3) दुखाईम
(4) गिड्डेन्स

30. निम्नलिखित में से किसने अपने विकासवादी चरणों में समाजों के चार प्रकारों – सरल, यौगिक, दुगुने यौगिक और तिगुने यौगिक को अभिचिह्नित किया है?

(1) हर्बर्ट स्पेंसर
(2) अगस्त कॉम्टे
(3) लियोनार्ड टी. हॉबहाउस
(4) इमाईल दुर्खाईम

31. मीड के अनुसार “सामान्यीकृत अन्य” और “महत्वपूर्ण अन्य” किनके सर्जक हैं?
(1) मैं
(2) मुझे
(3) अहम्
(4) पराहम्

Himachal General knowledge | हिमाचल प्रदेश सामान्य ज्ञान

इसे भी पढ़े

जॉन लॉक और उनका राजनीतिक सिद्धांत | John Locke and his Political Theory in Hindi

Introduction of Personnel Management कार्मिक प्रबंध

Join facebook page

Author: NEXT EXAM ONLINE

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *